Sunday , August 28 2022

डर से भागे-भागे फिर रहे दारोगा

बोकारो. चतरा में तैनात दारोगा को अपने ससुरालवालों से जान का खतरा है. दारोगा ने इस सिलसिले में अपना और अपनी नवविवाहित पत्नी के लिए सुरक्षा की मांग की है. दरअसल दारोगा दीपक कुमार हजारीबाग के इचाक की रहने वाली अपनी प्रेमिका से शादी रचा ली. यह शादी लड़की के घरवालों की मर्जी के खिलाफ हुई. अब दरोगा अपने ससुरालवालों के डर से अपने घर हजारीबाग नहीं जा पा रहे हैं.

दरअसल दारोगा दीपक कुमार मंदिर के बाद कोर्ट में शादी रचाना चाहते थे. इसके लिए उन्हें पत्नी के साथ हजारीबाग जाना था. लेकिन वहां ससुरालवालों का पहरा लगा हुआ था. इस कारण दोनों को बोकारो का रूख करना पड़ा. बोकारो कोर्ट में शुक्रवार को दोनों ने शादी रचाई. उधर हजारीबाग में लड़की के घरवालों ने दारोगा पर अपहरण का मामला दर्ज करा दिया है. वहीं लड़की ने घरवालों पर उसकी किसी दूसरे लड़के से जबरन शादी के लिए दबाव डालने और मारपीट करने का आरोप लगाकर केस दर्ज कराया है.

लड़की का कहना है कि उसके खुद अपनी मर्जी से दारोगा से शादी रचाई है. दारोगा दीपक कुमार ने बताया कि उनदोनों में पिछले 3 साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था. इस बीच घरवालों ने लड़की की शादी कहीं और तय कर दी. लेकिन बीते 24 अगस्त को लड़की ने उस लड़के से शादी करने से मना कर दिया. और दीपक के बारे में घरवालों को बताया. इस पर गुस्से में आकर घरवालों ने लड़की की पिटाई कर दी.

पिटाई के बाद लड़की ने फोन पर दीपक से सम्पर्क साधा. इसके बाद दोनों मंदिर में जाकर शादी रचा ली. शुक्रवार को दोनों बोकारो कोर्ट में भी शादी की. दारोगा दीपक कुमार भी हजारीबाग के रहने वाले हैं. वर्ष 2018 में उन्होंने सब इंस्पेक्टर की नौकरी ज्वाइन की. फिलहाल वह चतरा जिले में पोस्टेड हैं. दीपक का कहना है कि उन्हें सुरक्षा मिलनी चाहिए, क्योंकि ससुरालवाले उनकी जान के पीछे पड़े हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

thirteen − 12 =