Friday , September 9 2022

कच्ची घाटी में एक 7 मंजिला बिल्डिंगअचानक देखते-देखते ढही

शिमला. हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के कच्ची घाटी में एक 7 मंजिला बिल्डिंगअचानक देखते-देखते ढह गयी. हालांकि इमारत को गिरने से ठीक पहले पूरी तरह से खाली करा लिया गया था, इसलिए किसी तरह का हादसा नहीं हुआ और न ही जान-माल का कोई नुकसान हुआ. कैसे देखते ही देखते 7 मंजिला इमारत जमींदोज हो गई. इसमें कई परिवार रहते थे. मौके पर मौजूद अधिकारी के मुताबिक, बिल्डिंग के मलबे की चपेट में आने से नीचे बने घरों को काफी नुकसान हुआ है. कई बिल्डिंग में तो दरारें आई हैं.

जब ये बिल्डिंग गिरी, उस दौरान शिमला प्रशासन की टीम मौके पर मौजूद थी. डिप्टी मेयर और शिमला के डीसी भी मौके पर पहुंच गये थे. डिप्टी मेयर शैलेन्द्र चौहान ने बताया कि दर्शन कॉटेज की नींव बारिश होने से कमजोर हो गई थी. यही वजह है कि इमारत गिर गई. समय रहते इमारत को पूरी तरह से खाली करा लिया गया था, इसलिए जान माल का कोई नुकसान नहीं हुआ है.

कच्चीघाटी में जमींदोज हुई 7 मंजिला बिल्डिंग की जांच को लेकर शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने जांच के आदेश दिए हैं, तो वहीं अब निगम भी अब इस मामले में जांच करेगा. निगम के संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज ने बताया कि निगम की एक टीम मौके का निरीक्षण करेगी और यह बिल्डिंग अवैध थी या नहीं, इसकी जांच की जाएगी. हालांकि इस मामले में निगम की ओर से पहले कोई भी नोटिस बिल्डिंग मालिक को नहीं दिया गया है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

fifteen − thirteen =