Friday , September 2 2022

घटा दिया सड़क परियोजनाओं का आकार नितिन गडकरी

 

नई दिल्‍ली. केंद्रीय सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्री बनितिन गडकरीने कहा कि देश में विदेशी पेंशन और इंश्‍योरेंस फंड्स की ओर से सड़क संपत्तियों की खरीद की आशंका को कम किया जा रहा है. इसके लिए मोदी सरकार ने मौद्रिकरण योजना के तहत सड़क परियोजनाओं के आकार को कम कर दिया है. उन्‍होंने ने कहा कि विदेशी फंड्स के पास बड़ी मात्रा में पूंजी होती है, जो दूसरे बाजारों में बहुत कम रिटर्न देती है. ऐसे में वे भारत में पैसा लगाते हैं. हम नहीं चाहते कि विदेशी हमारी संपत्ति के मालिक हों.
केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि हमारी संपत्ति के विदेशी मालिक ना हों, इसलिए हमने परियोजनाओं का आकार 5,000 करोड़ से घटाकर 500 करोड़ रुपये कर दिया है. इससे घरेलू निवेशक इन परियोजनाओं में भाग ले सकेंगे. कश्मीर घाटी को लद्दाख से जोड़ने वाली जोजिला सुरंग के कार्य की प्रगति का हाल में निरीक्षण कर लौटे गडकरी ने कहा कि ठेकेदार को 2026 के बजाय 2023 तक सुरंग का काम पूरा करने के लिए कहा गया है. ऐसा सिर्फ और सिर्फ 2024 के लोकसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए किया गया है. इस दौरान उन्होंने सहकारी क्षेत्र को दक्षता और मुनाफे पर ज्‍यादा ध्यान देने के लिए भी कहा. उन्होंने इससे संबंधित कानूनों में बदलाव की जरूरत की भी चर्चा की.

वहीं, आज एक कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रवादी कांग्रेस प्रार्टी प्रमुख शरद पवार ने केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के काम की जमकर तारीफ की. अहमदनगर में एक समारोह में उन्‍होंने कहा कि जब गडकरी की परियोजनाओं की बात आती है तो समारोह के कुछ दिनों के भीतर काम शुरू हो जाता है. गडकरी किसी जनप्रतिनिधि के देश के विकास के लिए काम करने का बड़ा उदाहरण हैं. राकांपा प्रमुख ने कहा कि गडकरी के सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालने के दौरान करीब 5,000 किमी काम किया जा चुका था. उनके पदभार संभालने के बाद यह आंकड़ा 12,000 किमी को पार कर गया है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

1 × one =