Thursday , November 10 2022

दो शिक्षकों की हत्या पर आक्रोश

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में गुरुवार को आतंकियों द्वारा दो शिक्षकों की हत्या पर राजनीतिक दलों ने आक्रोश जाहिर किया है. इतना ही नहीं केंद्र सरकार से पाकिस्तान पर एयर स्ट्राइक करने की मांग भी उठाई जा रही है. गुरुवार को हुई वारदात पर एक स्थानीय पुलिस अधिकारी ने बताया कि आतंकियों की तरफ से ये काम पाकिस्तान में बैठे हैंडलर्स के इशारे पर किया जा रहा है. सेना की तरफ से चलाए जा रहे ऑपरेशन से आतंकी बौखलाए हुए हैं.

घटना पर प्रतिक्रिया दे रहे जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा, ‘आम नागरिकों को निशाना बनाने वाली ये घटनाएं घृणित हैं. यह आतंक फैलाने और कश्मीरी समुदाय को बांटने की कोशिश है. हम इन घटनाओं की जांच कर रहे हैं. हमें यकीन है कि जल्दी ही इन आतंकी घटनाओं का पर्दाफाश होगा. यह जल्दी होगा. यह सब सीमा पार बैठे पाकिस्तान हैंडलर्स के इशारे पर किया जा रहा है.’

शिवसेना की जम्मू-कश्मीर इकाई के अध्यक्ष मनीष साहनी ने कहा है कि कश्मीरी पंडितों को चुन-चुन कर निशाना बनाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि सरकार घाटी में कश्मीरी पंडितों को बसाने के लिए काम कर रही है. भारतीय सेना ने जो ऑपरेशन ऑलआउट चलाया है, उसके चलते आतंकी बौखलाए हुए हैं और यही कारण है कि चुन-चुन कर लोगों को टारगेट किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि ‘इसके पीछे पाकिस्तान है और हमारी पीएम मोदी से अपील है कि आप उस पर लगातार एयर स्ट्राइक करें.’

भारतीय जनता पार्टी के जम्मू-कश्मीर अध्यक्ष रविंद्र रैना ने कहा कि कायर पाकिस्तानी आतंकवादियों ने कश्मीर घाटी को लहुलुहान किया. इस जघन्य अपराध की इन कायर पाकिस्तानयों को भारी कीमत चुकानी पडे़गी. जबकि, कांग्रेस के पूर्व मंत्री रमन भल्ला ने सरकार पर सवाल उठाए हैं.

उन्होंने कहा कि कश्मीर में 2 दिन में जो लगातार हत्याएं हुई हैं, उसमें सरकार पूरी तरह से फेल रही है, क्योंकि कश्मीर में पहले एक मंदिर को तोड़ा जाना और उसके बाद कश्मीरी पंडितों पर लगातार हमले होना, बताता है कि सरकार लोगों को सुरक्षा देने में नाकामयाब रही है और आज भी दो टीचरों की हत्या हो गई है, जो निंदनीय है. उन्होंने दोहराया कि सरकार लोगों को सुरक्षा देने में पूरी तरह से विफल रही है.
बता दें कि श्रीनगर में गुरुवार को दिन दहाड़े आतंकियों ने स्कूल में घुसकर दो शिक्षकों की हत्या कर दी. सिख और कश्मीरी पंडित समुदाय से ताल्लुक रखने वाले दोनों शिक्षकों की पहचान प्रिंसिपल सतिंदर कौर और शिक्षक दीपक चंद के रूप में हुई है. बताया जा रहा है कि दोनों सफा कदल के अलोचीबाग के रहने वाले थे. गोली लगने के बाद उन्हें घायल हालत में सौरा के SKIMS अस्पताल ले जाया गया, लेकिन यहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − one =