Saturday , September 3 2022

राजनीति के पप्पू हैं राहुल गांधी:साक्षी महाराज

उन्नाव. ऑक्सीजन प्लांट लोकार्पण समारोह में पहुंचे सांसद साक्षी महाराज ने एकबार फिर विवादित बयान दिया है. साक्षी महाराज ने राकेश टिकैत को डकैत बताया है. साथ ही राहुल गांधी को राजनीति का ‘पप्पू’ कहा है. लखीमपुर खीरी मामले में आरोपी मंत्री के पुत्र की गिरफ्तारी न होने सवाल पर साक्षी महाराज बोले कि योगी सरकार में निष्पक्ष जांच चल रही है. जो भी दोषी होगा सख्त कार्रवाई होगी.

उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने मंच से संबोधन में कहा कि बीजेपी ने सब का सम्मान किया और जनता ने बीजेपी का सम्मान किया. कांग्रेस जब केंद्र में थी, तो भगवा आतंकवाद था. हमलोगों को आतंकवादी कह दिया गया. हमलोग तो चीटियों को आटा खिलाते हैं, पंछियों को दाना डालते हैं, सांप को भी नागपंचमी पर दूध पिलाते हैं. प्रज्ञा ठाकुर का जिक्र करते हुए कहा कि उनको कितनी यातनाएं दी गईं. हमने राकेश टिकैत के पिता महेंद्र सिंह टिकैत के साथ काम किया है. मैं उत्तर प्रदेश के किसान मोर्चा का प्रदेश उपाध्यक्ष रहा हूं. आज के राकेश टिकैत ने डकैत को भी फेल कर दिया है.

अपने संसदीय क्षेत्र की जनता से साक्षी महाराज ने कहा कि बागपत से हमने जाट को एमपी बनाया है, मुजफ्फरनगर से हमने जाट को एमपी बनाया है. हम काम के साथ हैं. इसलिए आप लोग किसी के बहकावे में न आवें. 22 में योगी आएंगे और 24 में मोदी भी आएंगे. अगर किसी में हिम्मत होती तो अकेले आते.

साक्षी महाराज ने विपक्ष के मेल-मिलाप की संभावनाओं पर कहा कि अब मेंढकों को तराजू में तोलने का प्रयास किया जा रहा है. मेढक कभी एक तराजू में तोले नहीं जा सकते हैं. एक रखो तो दूसरा उछल जाएगा, तीसरा उछल जाएगा, वह एक हो नहीं पाएंगे. जब-जब चुनाव होता है तो जो योगी और मोदी से भयभीत हैं, वे मेढकों का गठबंधन बना लेते हैं. उन्होंने मायावती के साथ गठबंधन करके देख लिया. राजनीति के पप्पू राहुल गांधी के साथ गठबंधन करके देख लिया. अब कह रहे हैं छोटे पार्टियों के साथ गठबंधन करेंगे. किसी के साथ भी कर लो, जनता है सब जानती है.

 

साक्षी महाराज ने कहा कि जाट हमारे समर्थन में हैं. वे कहते हैं कि साक्षी महाराज, आप जाओ… खाना-पीना खाओ, जनता का सारा वोट, जाटों का सारा वोट मोदी को है. मोदी योगी के साथ हैं. चिंता मत करो, आंदोलन में या तो सपा के लोग हैं या अजीत सिंह के लोग हैं या कांग्रेस के लोग हैं. इससे आप जाटों को बदनाम नहीं कर कर सकते हैं.

लखीमपुर खीरी मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी न होने के सवाल पर सांसद ने सधे शब्दों में जवाब देते हुए कहा कि योगी की सरकार में निष्पक्ष जांच की व्यवस्था है. जांच हो रही है, जो भी दोषी होगा बख्शा नहीं जाएगा.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

four × two =