Tuesday , September 6 2022

अब 2 लाख के बजाय 5 लाख रुपये कर सकते हैं ट्रांसफर

नई दिल्ली. अगर आप भी इंटरनेट बैंकिंग के जरिए पैसों का लेन-देन करते हैं तो आपके लिए खुशखबरी है. रिजर्व बैंक ने आईएमपीएसके जरिए होने वाले ट्रांजेक्शन की लिमिट बढ़ा दी है. अब एक दिन में 2 लाख रुपये के बजाय 5 लाख रुपये ट्रांसफर कर सकते हैं. यानी अब ऑनलाइन फंड ट्रांसफर करना और आसान हो गया है.

ग्राहकों की सहूलियत के लिए RBI ने यह फैसला किया है. अब आरटीजीएस की टाइमिंग 24X7 हो गई है यानी आप किसी भी वक्त आरटीजीएस के जरिए ऑनलाइन फंड ट्रांसफर कर सकते हैं.

आपको बता दें एनईएफटी के जरिए फंड ट्रांसफर करने की कोई मिनिमम लिमिट नहीं है यानी आप कितना भी पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं. वहीं अगर मैक्सिमम लिमिट की बात की जाए तो यह बैंकों के हिसाब से अलग-अलग हो सकती है.

एनईएफ के अलावा ग्राहक आरटीजीएस और आईएमपीएस का इस्तेमाल करके भी पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं. आरटीजीएस की बात करें तो इसके जरिए एक बार में 2 लाख रुपये से कम अमाउंट ट्रांसफर नहीं हो सकता, वहीं मैक्सिमम अमाउंट की लिमिट अलग-अलग बैंकों में अलग-अलग है. आईएमपीएस के जरिए एक दिन में 2 लाख रुपये तक का अमाउंट रियल टाइम में ट्रांसफर किया जा सकता था, जिसे बढ़ा कर 5 लाख रुपये कर दिया गया है.

शुक्रवार को तीन दिवसीय बैठक के बाद आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा, ‘आरबीआई ने रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया गया है. रेपो रेट 4% और रिवर्स रेपो रेट 3.35% की दर पर कायम है.’ बता दें कि रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास की अगुवाई वाली मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) ने आखिरी बार 22 मई, 2020 को रेपो दर में बदलाव किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

seventeen − 8 =