Wednesday , September 7 2022

जाने कौन सी टीम चौथी बार जीता आईपीएल का खिताब

दुबई. चेन्नई सुपरकिंग्स ने आईपीएल 2021 का खिताब जीत लिया है. टीम ने फाइनल में केकेआर को 27 रन से हराया. सीएसके ने चौथी बार आईपीएल का खिताब जीता और सभी एमएस धोनी की कप्तानी में. यह बतौर कप्तान धोनी का 300वां मैच था. इसके साथ टीम ने 2012 के आईपीएल फाइनल में केकेआर से मिली हार का बदला भी ले लिया. सीएसके ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 3 विकेट पर 192 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया. जवाब में केकेआर की टीम 165 रन ही बना सकी. सीएसके के ओपनर बल्लेबाज फाफ डुप्लेसी ने 86 रन की शानदार पारी खेली.

लक्ष्य का पीछा करने उतरी केकेआर की टीम को भाग्य का साथ मिला. दूसरे ओवर की तीसरी गेंद पर एमएस धोनी ने वेंकटेश अय्यर का आसान कैच छाेड़ा. वे उस समय शून्य पर खेल रहे थे. गेंदबाज जोस हेजलवुड थे और टीम का स्कोर 6 रन था. इसके बाद गिल और अय्यर (50) ने पहले विकेट के लिए 10.4 ओवर में 91 रन जोड़कर केकेआर को शानदार शुरुआत दिलाई. अय्यर ने 32 गेंद का सामना किया. 5 चौके और 3 छक्के लगाए. अय्यर ने सीजन का चौथा अर्धशतक भी लगाया.

केकेआर का स्कोर एक समय बिना विकेट के 91 रन था. 11वें ओवर की चौथी गेंद पर शार्दुल ठाकुर ने पहले अय्यर और इसी ओवर की अंतिम गेंद पर नीतीश राणा (0) को आउट किया. इसके बाद अगले ओवर में हेजलवुड ने सुनील नरेन (2) को आउट कर केकेआर को तीसरा झटका दिया. टीम का स्कोर 97 रन था. नरेन इस बार कुछ कमाल नहीं कर सके.

ओपनर बल्लेबाज शुभमन गिल 51 रन बनाकर दीपक चाहर की गेंद पर आउट हुए. बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज रवींद्र जडेजा ने 15वें ओवर में पहले दिनेश कार्तिक (9) और फिर शाकिब अल हसन (0) को आउट करके केकेआर को बैकफुट पर धकेल दिया. राहुल त्रिपाठी भी सिर्फ 2 रन बनाकर शार्दुल की गेंद पर आउट हुए. कप्तान मॉर्गन भी कुछ खास नहीं कर सके और 4 रन बनाकर हेजलवुड की गेंद पर आउट हुए. मावी 20 रन बनाकर अंतिम ओवर में आउट हुए. टीम 20 ओवर में 9 विकेट पर 165 रन ही बना सकी. फग्युर्सन 18 रन बनाकर नाबाद रहे. शार्दुल ठाकुर ने सबसे अधिक 3 विकेट लिए.

 

इससे पहले टॉस हारकर पहले खेलने उतरी चेन्नई सुपर किंग्स को ऋतुराज गायकवाड़ और फाफ डुप्लेसी ने अच्छी शुरुआत दिलाई. दोनों ने पहले विकेट के लिए 8.1 ओवर में 61 रन जोड़े. ऋतुराज 27 गेंद पर 32 रन बनाकर सुनील नरेन की गेंद पर आउट हुए. इसके बाद उतरे रॉबिन उथप्पा (31) ने तेज हाथ दिखाए. उन्होंने 15 गेंद का सामना किया और 3 छक्के जड़े. वे भी नरेन का शिकार हुए. उन्होंने दूसरे विकेट के लिए 63 रन की साझेदारी की.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

2 + 20 =