Tuesday , November 8 2022

पानी में डूबा दिया गया था पूरा गांव

डर्बीशायर :तरक्की के नाम पर दुनिया ने कई तरह की बर्बादियां देखी है. कई सुविधाओं के बदले दुनिया को कई तरह के नुकसान भी उठाने पड़ते हैं. चाहे पॉल्यूशन हो या बर्फ का पिघलना, दुनिया को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. ऐसी ही तरक्की का खमियाजा यूके के एक छोटे से गांव को चुकाना पड़ा. डर्बीशाय का डेवेन्ट गांव आज से 80 साल पहले बर्बाद हो गया था. इस गांव को बनाए गए तालाब में डूबा दिया गया था. यूके के डर्बीशायर में स्थित डेवेन्ट गांव को 1940 में पानी में डूबा दिया गया था. आसपास की जगहों में पानी सप्लाई के लिए इस तालाब को बनाया गया था. लेकिन तरक्की के नाम पर इस गांव को पूरी तरह पानी में डूबा दिया गया था. पानी सूखते ही इस गांव के निशान सामने आ जाते हैं. सोशल मीडिया पर इस गांव की तस्वीरें वायरल हो रही हैं.

डर्बीशायर में स्थित डेवेन्ट गांव को आसपास के इलाके में पानी सप्लाई के लिए बनाए गए तालाब में डूबा दिया गया था. इस तालाब से डर्बी, शेफ़ील्ड, नाटिंघम और लीसेस्टर गांव में पानी सप्लाई किया जाता है. लेकिन इसके कारण पूरा का पूरा डेवेन्ट गांव तबाह हो गया.

80 साल के बाद भी जब इस तालाब का पानी सूखता है तो डेवेन्ट गांव के अवशेष सामने आ जाते हैं. इतने सालों बाद भी गांव के सारे मकान और झोपड़ियां आज भी सही सलामत दिखाई देते हैं. गांव के सारे ब्रिज आज भी वैसे ही नजर आते हैं.

इस गांव के चर्च भी पानी सूखते ही दिखाई देने लगते हैं. इन चर्च को 1757 में बनाया गया था.

पानी सूखने के बाद पूरा का पूरा गांव वैसा ही दिखाई देने लगता है, जैसा वो सालों पहले था. हालांकि, ये गांव हर साल दिखाई नहीं देता है. किसी किसी साल जब पानी का लेवल काफी नीचे चला जाता है, तब इस शख्स के निशान नजर आने लगते हैं.

गांव में रहने वाले कई बुजुर्ग कहते हैं कि ये गांव कभी काफी समृद्ध था. लेकिन इस तालाब ने सबकुछ तबाह कर दिया. इस गांव के बारे में आज भी काफी बातें की जाती है. कुछ लोगों का यहां तक कहना है कि ये गांव भूतहा हो चुका है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four + 18 =