Sunday , August 28 2022

आग से दो सौ बीघा गेहूं की फसल राख

जिले में अलग-अलग गुरुवार को आग लगने से गेहूं की करीब दो सौ बीघा फसल जलकर राख हो गई। तीस से पैंतीस लाख रुपए के नुकसान का अनुमान है। दुकान व गुमटी तथा घरों में आग लगने से नगदी व गृहस्थी जलकर राख हो गई। आग बुझाने का प्रयास करने में एक युवक व मवेशी भी झुलस गए। आग बुझाने में ज्यादातर जगहों पर ग्रामीणों ने काबू पाया। उधर, सूचना देने के बाद भी कई जगहों पर लेखपाल आंकलन के लिए भी नहीं पहुंचे हैं।

सोहरामऊ में बिजली के तारों से निकली चिनगारी से लगी आग की चपेट में आकर पांच गांवों के किसानों की करीब दो सौ बीघा फसल जलकर राख हो गई। सूचना के एक घंटे बाद पहुंची दमकल गाड़ियों व ग्रामीणों ने आग पर काबू पाया। आग बुझाने के दौरान एक युवक गंभीर रूप से झुलस गया है। पुरवा तहसील के कुसलीखेड़ा गांव में बिजली के तारों में स्पार्किंग से निकली चिनगारी से गेहूं की फसल में आग लग गई। आग ने चिलौली, गोड़वा, आलापुर व डुडियाथर गांवों के किसानों की गेहूं की फसल को भी जलाकर राख कर दिया। आग बुझाने के दौरान चिलौली गांव का नंद किशोर गंभीर रूप से झुलस गया। सूचना के एक घंटे बाद लखनऊ के मेमौरा एयरफोर्स छावनी व पुरवा से पहुंची दमकल गाड़ियों आग पर काबू पाया।

फतेहपुर चौरासी के जमुनिहा कच्छ में गुरुवार को घर में खाना बनाते समय चूल्हे की चिनगारी से आग लग गई। ग्रामीण जब तक आग पर काबू पाते, तब तक आग से विजय बहादुर, जगन्नाथ, उपेन्द्र पाल का गृहस्थी, अनाज व बर्तन आदि सामान जलकर राख हो गया। दूसरे गांव रूपपुर पावा व माखनखेड़ा के बीच खेतों में आग लग गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

14 − eleven =