Saturday , November 5 2022

ब्रिटेन ने फ्रांस को दी धमकी


लंदन. ब्रिटेन ने फ्रांस को धमकी दी है कि अगर उसने अपने बंदरगाहों पर ब्रिटेन की नौकाओं को रोकने की धमकी पर अमल करता है तो उसके खिलाफ जवाबी कार्रवाई की जाएगी. फ्रांस के अधिकारियों द्वारा ब्रिटेन की मछली पकड़ने वाली दो नौकाओं पर जुर्माना लगाए जाने और एक नौका को गुरुवार को रातभर बंदरगाह में खड़ा रखने के बाद ब्रिटेन ने फ्रांस के राजदूत को तलब किया.

दरअसल, ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से अलग होने के बाद लंदन और पेरिस के बीच संबंध खराब हुए हैं. फ्रांस ने धमकी दी है कि अगर ब्रिटेन के जलक्षेत्र में फ्रांस की नौकाओं को मछली पकड़ने के लिए और अधिक अनुमति नहीं दी गई तो वह ब्रिटेन की नौकाओं को रोकेगा और उसके पोतों की जांच को और कड़ी करेगा.

पर्यावरण मंत्री जॉर्ज यूस्टाइस ने कहा, ‘हम देखेंगे कि वे क्या करते हैं, लेकिन अगर वे इस पर अमल करते हैं, तो दोनों समान बर्ताव करेंगे और हममें उसी तरीके से प्रतिक्रिया देने की क्षमता है.’ ब्रिटेन सरकार ने कहा कि फ्रांस की राजदूत कैथरीन कोलोना को शुक्रवार को विदेश कार्यालय में तलब किया जाएगा.

फ्रांस ने कहा कि अगर मंगलवार तक लाइसेंस को लेकर विवाद का समाधान नहीं किया गया तो वह ब्रिटेन की नौकाओं को उसके बंदरगाहों पर उतरने से रोक सकता है. वहीं, यूके सरकार ने चेतावनी दी कि वह जवाब में यूरोपीय संघ की मछली पकड़ने की गतिविधियों पर “कठोर” जांच शुरू कर सकती है. प्रधान मंत्री के प्रवक्ता ने कहा कि बोरिस जॉनसन इस सप्ताह के अंत में रोम में जी20 शिखर सम्मेलन में फ्रांस के राष्ट्रपति इमेनुएल मैक्रों के साथ “ब्रश बाय” बैठक करेंगे. उन्होंने कहा कि फ्रांस ब्रिटेन का “करीबी और मजबूत सहयोगी” बना हुआ है.

एक ब्रिटिश ट्रॉलर को फ्रांस ने जब्त कर लिया और एक अन्य पर गुरुवार को ले हावरे की जांच के दौरान जुर्माना लगाया गया. फ्रांसीसी अधिकारियों का कहना है कि हिरासत में लिए गए ब्रिटिश जहाज के पास लाइसेंस नहीं था- स्कॉटलैंड के नाव के मालिक मैकडफ शेलफिश ने इस दावे को खारिज कर दिया. लेकिन यूरोपीय संघ ने कहा कि ब्रिटेन के अधिकारियों ने एक मार्च को लाइसेंस वापस ले लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × three =