Thursday , November 10 2022

पीएम मोदी आज पहुंचेंगे केदारधाम ,देंगे करोडो की सौगात

नई दिल्ली: काशी विश्वनाथ से श्री केदारनाथ तक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की शिव भक्ति और आस्था किसी से छिपी नहीं है. वे शुक्रवार को एक बार फिर उत्तराखंड के केदारनाथ धाम में होंगे.

कहते हैं जो कर्मयोगी शिव का तप करते हैं. उसका परिमाण भी उनके कार्यों में नज़र आता है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की शिव पर आस्था काशी से लेकर केदारनाथ तक शिव धामों के कायाकल्प में भी नजर आती है. करीब 8 साल पहले केदारनाथ धाम में एक भयानक त्रासदी आई थी.जिसने केदारनाथ धाम की तस्वीर पूरी तरह से बदल दी थी.

दुर्गम पहाड़, विपरीत भौगोलिक परिस्थितियां, मुश्किल मौसम. लोगों को लगा था कि उत्तराखंड में मौजूद केदारनाथ धाम में पुरानी रौनक अब नहीं लौट पाएगी लेकिन शिव भक्ति से मिलने वाली संकल्प शक्ति ने स्वप्न को सत्य करके दिखा दिया. वर्ष 2013 की त्रासदी के बाद केदारनाथ धाम पूरी तरह से बदल गया है. अब वहां केदारनाथ मंदिर, श्रद्धालु और वहां रहने वाले सेवादारों की सेफ्टी के पर्याप्त इंतजाम हो चुके हैं.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी केदारनाथ धाम में होंगे. उनके मन में श्री केदारनाथ धाम के प्रति अपार श्रद्धा और आस्था है. प्रधानमंत्री बनने के पहले से वो केदारनाथ धाम की यात्रा पर आते रहे हैं. प्रधानमंत्री बनने के बाद अपने पहले कार्यकाल में उन्होंने 6 बार केदारनाथ धाम की यात्रा की. इस बार भी दीवापली के ठीक एक दिन बाद प्रधानमंत्री केदारधाम में होंगे. इस दौरान केदारनाथ धाम के पुर्ननिर्माण के पहले चरण के विकास कार्यां का लोकार्पण किया जाएगा.

आदि शंकराचार्य की समाधि भी दोबारा तैयार
पीएम मोदी जिन परियोजनाओं का लोकार्पण करने वाले हैं, उनमें आदि शंकराचार्य जी की समाधि भी शामिल है. वर्ष 2013 की त्रासदी में यह समाधि नष्ट हो गई थी. पुनर्निर्माण के बाद आदि शंकराचार्य की समाधि का स्वरूप और भव्य होगा. प्रधानमंत्री खुद इस परियोजना की समीक्षा कर रहे हैं. इसके अलावा प्रधानमंत्री सरस्वती रिटेनिंग वॉल आस्था पथ और घाट और मंदाकिनी रिटेनिंग वॉल आस्थापथ का भी उद्घाटन करेंगे. वे तीर्थ पुरोहित घरों और मंदाकिनी नदी पर गरुड़ चट्टी पुल का भी उद्घाटन करेंगे.

इसके अलावा प्रधानमंत्री 180 करोड़ रुपये से अधिक लागत की कई परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे. इन परियोजनाओं में संगम घाट का पुनर्विकास, प्राथमिक चिकित्सा और पर्यटक सुविधा केन्‍द्र, प्रशासनिक कार्यालय एवं अस्पताल, दो गेस्ट हाउस, पुलिस स्टेशन, कमांड एंड कंट्रोल सेंटर, मंदाकिनी आस्थापथ कतार प्रबंधन एवं रेनशेल्‍टर और सरस्वती नागरिक सुविधा भवन भी शामिल हैं. जिन परियोजनाओं का प्रधानमंत्री 5 नवंबर को उद्घाटन करेंगे, उनकी आधारशिला भी प्रधानमंत्री ने ही रखी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × three =