Monday , November 7 2022

भारत की स्कॉटलैंड पर ऐतिहासिक जीत


दुबई. टी20 वर्ल्ड कप के 37वें मुकाबले में भारत ने स्कॉटलैंड 8 विकेट से करारी शिकस्त दी. यह टूर्नामेंट में भारत की दूसरी जीत है. स्कॉटलैंड ने भारत ( के सामने सिर्फ 86 रनों का लक्ष्य रखा जिसे टीम इंडिया ने दो विकेट खोकर 6.3 ओवर में हासिल कर लिया. भारत ने यह मुकाबला सिर्फ 39 गेंदों में जीता जो टी20 इतिहास में उसकी गेंदों की लिहाज से सबसे बड़ी जीत है. सलामी बल्लेबाज केएल राहुल ने 19 गेंदों में 6 चौके और तीन छक्के की मदद से 50 रनों की विस्फोटक पारी खेली. रोहित शर्मा ने 16 गेंदों में पांच चौके और एक छक्के की मदद से 30 रन बनाए.

इससे पहले मोहम्मद शमी और रविंद्र जडेजा की अगुवाई में भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए स्कॉटलैंड को 17.4 ओवर में 85 रन पर आउट कर दिया. भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अपने 33वें जन्मदिन पर टूर्नामेंट में पहली बार टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया. तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने पहले ही स्पैल में खतरनाक गेंदबाजी करके स्कॉटलैंड को अच्छी शुरूआत नहीं करने दी. बुमराह इसके साथ ही युजवेंद्र चहल (63 विकेट) को पछाड़कर इस फॉर्मेट में भारत के लिये सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए.

सलामी बल्लेबाज जॉर्ज मुंसी (19 गेंद में 24 रन) ने बुमराह को स्क्वेयर लेग पर छक्का और वरुण चक्रवर्ती को चौका लगातर हाथ खोलने के संकेत दिए. स्कॉटिश कप्तान काइल कोएत्जर (1) को बुमराह ने पहले यार्कर डाली और फिर धीमी गेंद पर बोल्ड किया. मोहम्मद शमी ने मुंसी को पवेलियन भेजा. शमी और जडेजा ने 15-15 रन देकर तीन-तीन विकेट लिये. जडेजा ने मैथ्यू क्रॉस ( दो ), रिची बेरिंगटन (0) और माइकल लीस्क ( 12 गेंद में 21 रन ) को आउट किया.

स्कॉटलैंड का स्कोर दस ओवर के बाद चार विकेट पर 44 रन था. इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने मुड़कर नहीं देखा. कैलम मैकलियोड ने 28 गेंद में 16 रन बनाए जिसके बाद शमी ने उनकी पारी का अंत कर दिया. स्कॉटलैंड के बल्लेबाजों ने नामीबिया और अफगानिस्तान जैसी कमोबेश कमजोर टीमों के खिलाफ भी अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था. भारत के लिये रविचंद्रन अश्विन ने 29 रन देकर एक विकेट लिया जबकि वरुण चक्रवर्ती ने 15 रन दिये लेकिन उन्हें विकेट नहीं मिला.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty − 10 =