Monday , September 12 2022

पाक जवानों गोलीबारी से मछुआरे की मौत पर भारत गंभीर

नई दिल्ली. गुजरात के अपतटीय क्षेत्र में अरब सागर में अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा के पास पाकिस्तानी समुद्री सुरक्षा एजेंसी (पीएमएसए) द्वारा बिना वजह एक मछली पकड़ने वाली नौका पर गोलीबारी करने के मामले को भारत ने गंभीरतापूर्वक लिया है जिसमें एक मछुआरे की मौत हो गयी. ये घटना शनिवार की है. आधिकारिक सूत्रों ने रविवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि पीएमएसए की तरफ की गई गोलीबारी में एक भारतीय मछुआरे की मौत के अलावा एक अन्य मछुआरा घायल हो गया. घायल का गुजरात में ओखा स्थित अस्पताल में उपचार जारी है.

एक सूत्र ने कहा, ”हमने इस घटना को गंभीरता से लिया है. हम इस मुद्दे को पाकिस्तानी पक्ष के साथ कूटनीतिक रूप से उठाने जा रहे हैं. मामले की जांच की जा रही है.” देवभूमि द्वारका के पुलिस अधीक्षक सुनील जोशी ने कहा, ‘‘पीएमएसए जवानों ने शनिवार शाम को चालक दल के सदस्यों पर गोली चलाई, जिसमें महाराष्ट्र के ठाणे का रहने वाला एक मछुआरा मारा गया जो मछली पकड़ने वाली नौका ‘जलपरी’ पर सवार था.’’
नौका पर चालक दल के सात सदस्य सवार थे और इनमें से एक को गोलीबारी की घटना में मामूली चोट आई है. मृतक मछुआरे श्रीधर रमेश चामरे (32) का शव रविवार को ओखा बंदरगाह पर लाया गया तथा पोरबंदर नवी बंदर पुलिस प्राथमिकी दर्ज कर रही है. जोशी ने कहा, ‘‘चामरे मछली पकड़ने वाली नौका ‘जलपरी’ पर सवार था, जो चालक दल के सात सदस्यों के साथ 25 अक्टूबर को ओखा से निकली थी. इनमें से पांच सदस्य गुजरात से और दो महाराष्ट्र से थे.’’

भारतीय तट रक्षक (आईसीजी) ने एक बयान में कहा, ‘‘इस समय पुलिस अधिकारी घटना की जांच कर रहे हैं और चालक दल के सदस्यों से संयुक्त पूछताछ की जा रही है. जांच में तथ्य सामने आने के बाद ही जानकारी साझा की जा सकती है.’’ हालांकि, आईसीजी ने इस बात की पुष्टि की कि गोलीबारी हुई है, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गयी और एक अन्य घायल हो गया.

नौका पर सवार छह लोगों को गिरफ्तार करने के पाकिस्तान के दावे के बारे में पूछने पर
इस बीच, चामरे की मृत्यु की खबर मिलने के बाद महाराष्ट्र के पालघर जिले में उनके पैतृक गांव वडराई में शोक की लहर फैल गयी. नौका के मालिक जयंतीभाई राठौड़ के अनुसार जिस समय चामरे को गोली लगी, उस समय वह नौका के कैबिन में थे. जब कुछ मीडियाकर्मियों ने राठौड़ से संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि पाकिस्तान के कर्मियों की अंधाधुंध गोलीबारी में नौका का कैप्टन भी घायल हो गया.उन्होंने बताया कि चामरे का शव कुछ दिन में उनके गांव पहुंच सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

four + eleven =