Saturday , September 3 2022

क्यों अचानक रुक जाती है यहां के बच्चों की लंबाई ?

पूरी दुनिया तमाम तरह के रहस्यों से भरी पड़ी है. कुछ रहस्य तो ऐसे भी हैं, जिनको आज तक वैज्ञानिकभी नहीं सुलझा पाए हैं. आज हम आपको एक ऐसे ही रहस्य के बारे में बताने जा रहे हैं. आपको जानकर हैरानी ही होगी कि दुनिया में एक ऐसा गांव है जहां किसी बच्चे के पैदा होने के 7 साल बाद उसकी लंबाई बढ़ती ही नहीं है. यानि कि इस गांव में लोग बौने ही रह जाते हैं.

बच्चों की बुढ़ापे तक लंबाई ना बढ़ने की वजह से इस गांव को ‘शापित गांव’ कहा जाता है. दुनिया के नक्शे पर यह गांव चीन में स्थित है. ना सिर्फ चीन के वैज्ञानिकों के लिए बल्कि दुनियाभर के वैज्ञानिकों के लिए यह गांव एक रहस्य की तरह है. बौने लोगों का यह गांव चीन के शिचुआन प्रांत में है. गांव का नाम यांग्सी है.

गांव में अधिकतर आबादी छोटे कद यानी बौने लोगों की है. आपको सुनकर शायद आश्चर्य हो कि गांव में रहने वाली कुल आबादी में पचास फीसदी लोग बौने ही हैं. इन लोगों की लम्बाई 2 फीट से लेकर मात्र तीन फीट तक ही होती है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, गांव में जब बच्चा पैदा होता है तो वह नॉर्मल ही होता है. शुरुआत के 5 से 7 साल की उम्र तक तो बच्चों की लंबाई सामान्य रूप से बढ़ती है, लेकिन इसके बाद उनकी लंबाई पर ब्रेक लग जाता है. कुछ केस में बच्चों की लंबाई 10 साल की उम्र तक भी बढ़ती है.

इस गांव के आसपास रहने वाले लोगों की मानें तो गांव पर किसी बुरी शक्ति का सायाहै. जबकि दूसरी ओर मान्यता है कि यह गांव कई दशकों से शापित है. लोगों के बौने होने के पीछे के रहस्य के बारे में पिछले 60 सालों में किसी को कुछ पता नहीं चल पाया है. पिछले कुछ दशकों में वैज्ञानिकों ने इसके पीछे के रहस्य का पता लगाने की बहुत कोशिश की लेकिन वह इसमें कामयाब नहीं हो सके हैं.

गांव के बड़े-बुजुर्ग बताते हैं कि गांव में कई दशक पहले एक खतरनाक बीमारी फैल गई थी. इसी बीमारी की वजह से आज भी गांव के बच्चों की लंबाई बढ़ती नहीं है. पिछले 60 सालों में वैज्ञानिकों ने गांव के प्राकृतिक संसाधनों पर भी कई तरह के शोध कर यह जानने की कोशिश की कि शायद यहां के पानी में कोई ऐसा कैमिकल तो नहीं मिला है, जिसे खाने के बाद बच्चों की लंबाई बढ़ना रुक जाती है. हालांकि वैज्ञानिकों को इसे लेकर कोई सकारात्मक परिणाम नहीं मिल सका है.

कुछ वैज्ञानिक यह बात जरूर कहते हैं कि इस गांव की मिट्टीमें पारा की मात्रा अधिक है. जिसमें पैदा होने वाले अनाज को खाकर लोगों की लंबाई नहीं बढ़ती है. इसके अलावा कुछ वैज्ञानिक कई साल पहले जापान द्वारा चीन में छोड़ी गई जहरीली गैस को भी बौनेपन का कारण मानते हैं. हालांकि वैज्ञानिक किसी भी कारण को लेकर पुख्ता बातें नहीं कहते हैं. खैर कारण जो भी हो लेकिन इस गांव का रहस्य कई दशकों से आज भी बरकरार है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

one × one =