Tuesday , November 8 2022

इस राज्य में शराब हुई काफी सस्ती


मुंबई: महाराष्ट्र सरकार ने पेट्रोल डीजल पर वैट घटाने की जगह शराब पर टैक्स ( कम करने का ऐलान किया है. सरकार ने शराब पर लगने वाले विशेष टैक्स को 300 प्रतिशत से घटाकर 150 प्रतिशत कर दिया हैं.

बताते चलें कि केंद्र की तरफ से पेट्रोल डीजल पर टैक्स घटाने के बाद देश के कई राज्यों में सरकारों ने भी वैट में कटौती की थी. महाराष्ट्र के लोगों को उम्मीद थी कि उद्धव ठाकरे सरकार उनके लिए भी पेट्रोल-डीजल पर लग रहे वैट में कमी करेगी लेकिन सरकार की दिलचस्पी शराब सस्ती करने में ज्यादा दिखी. उसने आम लोगों के बजाय शराब पीने वालों के लिए वैट की दरें कम कर दी हैं. जिससे आम लोग अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहे हैं.

लोगों की नाराजगी को भांपते हुए अब महाराष्ट्र सरकार सफाई दे रही है कि दूसरे राज्यों से होने वाली शराब की तस्करी को रोकने के लिए उसने ये कदम उठाया है. महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने भी सरकार का समर्थन करते हुए कहा कि महाराष्ट्र में शराब पर वैट ज्यादा होने की वजह से दूसरे राज्यों से शराब की तस्करी ज्यादा हो रही थी. उसे कंट्रोल करने के लिए राज्य में शराब पर वैट को बाकी राज्यों के लेवल पर लाया गया है.
वहीं बीजेपी ने इस मुद्दे को लेकर सरकार की नीयत पर सवाल उठाया है. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत दादा पाटिल ने पूछा कि लॉकडाउन में जब लोगों को छूट देने की बारी आई तो सरकार ने सबसे पहले शराब की दुकानें खोली. वहीं अब पेट्रोल-डीजल पर वैट कम करने की जगह शराब पर टैक्स घटाने का ऐलान किया है. यह सरकार की कौन सी जनहितैषी नीति है.

बताते चलें कि महाराष्ट्र सरकार पेट्रोल पर प्रति लीटर 29 रुपये 25 पैसे और डीज़ल पर 20 रुपये 78 पैसे VAT लगाती है. जिसकी वजह से मुंबई में पेट्रोल के दाम करीब 110 रुपये प्रति लीटर और डीजल के दाम करीब 95 रुपये लीटर पर पहुंचे हुए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 + one =