Wednesday , September 7 2022

फूल गोभी इन लोगों के लिए है जहर

नई दिल्ली: फूल गोभी की सब्जी, पराठा या इससे बने व्यंजन ज्यादातर लोगों को पसंद होते हैं, लेकिन कुछ बीमारियों में आपको फूल गोभी का सेवन भूलकर भी नहीं करना चाहिए. इससे आपकी समस्या बढ़ सकती है.

फूल गोभी में कैल्शियम, फॉस्फोरस, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और आयरन की भरपूर मात्रा होती है. साथ ही इसमें विटामिन ए, बी, सी और पोटैशियम भी होता है. इसे खाना आपके लिए फायदेमंद है, लेकिन अगर आपको थायरॉइड या स्टोन की समस्या है, तो फूल गोभी खाने से परहेज करें.

डाइजेशन से जुड़ी प्रॉब्लम
गैस की समस्या में भी फूल गोभी का सेवन न करें. इस सब्जी में रेफिनोज होता है, जो एक प्रकार का कार्बोहाइड्रेट है. ये कार्ब कुछ सब्जियों में तो प्राकृतिक रूप से मौजूद होता है, लेकिन हमारा शरीर इसे तोड़ नहीं पाता. इसकी वजह से एसिडिटी की समस्या बढ़ सकती है. पेट से जुड़ी समस्या आपको लगातार रहती है तो फूल गोभी का सेवन न करें.

फूलगोभी में एंटीऑक्सीडेंट्स, फाइटोन्यूट्रिएंट्स , फोलेट, विटामिन के और फाइबर जैसे पोषक तत्वों के साथ सल्फरयुक्त रसायन भी होते हैं, जिन्हें ग्लूकोसिनोलेट्स कहा जाता है. जब ये केमिकल पेट में ब्रेक होते हैं, तो यह हाइड्रोजन सल्फाइड कम्पाउंड बनाते हैं. इससे गैस की समस्या हो सकती है.

थायरॉइड के मरीज न खाएं
अगर आपको थायरॉइड की समस्या है, तो फूल गोभी का सेवन न करें. इससे टी 3 और टी 4 हार्मोन बढ़ सकता है.

पथरी की समस्या में
गॉल ब्लैडर या फिर किडनी में स्टोन की समस्या में फूल गोभी का सेवन आपको नुकसान पहुंचाएगा क्योंकि, इसमें कैल्शियम की मात्रा ज्यादा होती है. यूरिक एसिड बढ़ा हुआ है, तो भी फूल गोभी का सेवन न करें. इसे खाने से आपकी प्रॉब्लम बढ़ जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

18 − six =