Sunday , August 28 2022

अतीक अहमद ने जेल से फोन करके मांगे पांच करोड़


प्रयागराज:अहमदाबाद जेल से फोन करके अपने एक रिश्तेदार से पांच करोड़ रुपये मांगने का अतीक अहमद पर आरोप लगा है। प्रॉपर्टी हड़पने और जानलेवा हमले के मामले में करेली पुलिस ने शुक्रवार को अतीक के बेटे अली के दो साथियों को गिरफ्तार कर लिया। मौके पर एक गाड़ी और पिस्टल बरामद की है।

पीड़ित ने अतीक, बेटे अली समेत अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। पुलिस अब अतीक के बेटे की तलाश में दबिश दे रही है। पूर्व सांसद अतीक अहमद के साढ़ू इमरान का परिवार चकिया में रहता है। इमरान के भाई मो. जीशान ने पुलिस को बताया कि वह प्रॉपर्टी डीलिंग करता है।

शुक्रवार को करेली के एनुद्दीनपुर में अपने भाई व भांजे समेत छह युवकों के साथ पुश्तैनी प्लॉट पर मौजूद था। एफआईआर के मुताबिक उसके प्लॉट पर अतीक का बेटा अली, असद, कछौली, सैफ, इमरान गुड्डू, अमन, संजय सिंह और 15 अन्य पहुंचे। अली के साथियों ने उसे घेर लिया और कहा कि अब्बा से बात करो। इनकार करने पर उसे पिस्टल सटा दी। कहा कि ले बात कर नहीं तो भेजा उड़ा देगा।

फोन स्पीकर पर कर दिया और कहा कि बोल। जीशान के बोलते ही उधर से अतीक ने कहा कि यह प्लॉट उनकी पत्नी के नाम कर दो, नहीं तो तुम्हारे और तुम्हारे भाई के हाथ-पैर तोड़ देंगे। या पांच करोड़ रुपये बंगले पर पहुंचा दो। इसके बाद उसकी धुनाई शुरू कर दी। जीशान वहां से अपने साथी के साथ भागकर सीधे करेली थाने पहुंचा।

दबंगों ने जेसीबी से उसके प्लॉट पर बनी दीवार गिराना शुरू कर दिया गया। थोड़ी ही देर में दरोगा विजेंद्र यादव समेत कई पुलिसकर्मी मौके पर पहुंच गए। वहां पुलिस को देखते ही अली अपने साथियों के साथ भाग निकला लेकिन सैफ और असद पकड़ लिए गए। करेली पुलिस उन्हें पकड़कर थाने ले गई।

इधर, जीशान का भाई हमले से जख्मी पड़ा था। उसके भांजे को भी चोटें आई हैं। जीशान ने बताया कि उसके भाई के सिर में गंभीर चोटें आई हैं। उसे एसआरएन में भर्ती कराया गया है। डीआईजी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी ने बताया कि दो आरोपियों को देसी पिस्टल के साथ पकड़ा गया है। अन्य की तलाश चल रही है।

पुलिस की कार्रवाई के दौरान एक आरोपी मौके पर पकड़ लिया गया। जीशान करेली पुलिस को लेकर मौके पर गया था। इस दौरान पकड़े गए सैफ के बारे में जीशान ने बताया कि यह अतीक का आदमी है। अतीक अहमद अहमदाबाद जेल में सड़ रहा है। यह सुनते ही सैफ ने पुलिसकर्मियों के सामने ही उसे धमकाया और कहा कि अतीक का नाम तमीज से लो।

करेली एसओ अनुराग शर्मा ने बताया कि अतीक के बेटे अली की तलाश में दो बार छापामारी की गई। घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस ने चकिया में छापामारी की थी। रात में भी अतीक की ससुराल चकिया में गए थे। बताया जा रहा है कि अतीक के मकान को जब पीडीए ने जमीदोंज कर दिया तो उनकी पत्नी ने मायके में शरण ली थी।इसी सूचना पर अतीक की ससुराल में पुलिस ने छापामारी की।

अतीक अहमद के साथ जुर्म की दुनिया में उसके रिश्तेदार भी शामिल रहे। अतीक का साढ़ू इमरान भी अतीक गैंग का सक्रिय सदस्य रहा़ है। दो साल पहले देवरिया जेल के अंदर प्रॉपर्टी डीलर जैद की पिटाई मामले में अतीक के साथ इमरान भी नामजद था। 25 हजार का इनामी इमरान जेल से रिहा है।

जीशान ने बताया कि देवरिया जेल कांड के बाद से उसके पूरे परिवार ने अतीक से दूरी बना ली। लेकिन इसके बाद भी फोन करके रुपये मांग रहे थे। पहले कई बार रुपये दिए गए। रंगदारी से परेशान होकर इमरान ने जमानत पर छूटने के बाद से मोबाइल रखना बंद कर दिया। प्रयागराज छोड़ दिया। अब वह प्रॉपर्टी का धंधा संभाल रहा है। इसलिए उसे टारगेट बनाकर मारा-पीटा गया है। दो साल से परिवार अतीक से परेशान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

5 × 1 =