Friday , September 2 2022

भारत हमसे कई गुना आगे है :इमरान खान

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ये सच्चाई स्वीकारने लगे हैं कि भा रत उनसे कहीं गुना आगे है. यही वजह है कि थोड़े से अंतराल में उन्होंने दूसरी बार भारत की तारीफ की है. पाकिस्तान-चीन बिजनेस इंवेस्टमेंट फोरम के उद्घाटन समारोह में इमरान ने भारत के आईटी सेक्टर की सार्वजनिक मंच से तारीफ की. पाक पीएम ने कहा कि आईटी सेक्टर में जो नया टेक्नोलॉजिकल रेवोल्यूशन है, हिंदुस्तान उसमें बीस साल पहले किधर था और आज उसका एक्सपोर्ट देंखे और हमें देखें.

इससे पहले इमरान खान ने 27 दिसंबर को लाहौर में स्पेशल टेक्नोलॉजी जोन ‘टेक्नोपोलिस’ के उद्घाटन समारोह में भी कहा था कि उनका देश आईटी सेक्टर में भारत से काफी पीछे है. इस कार्यक्रम में उन्होंने भारत के आईटी सेक्टर की जमकर तारीफ की थी. बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तानी PM ने कहा, ‘यह बेहद खास मौका है कि हम पाक-चीन बिजनेस फोरम पर जमा हुए हैं और यह इसलिए खास है क्योंकि इससे सरकार को फीडबैक मिलता है. व्यापार और निवेश की दिशा में किस तरह की मुश्किलें पेश आती हैं और किस तरह की सुविधाएं होनी चाहिए ये समझने में मदद के लिए यह फेरम बेहद अहम है’.

इमरान खान ने कहा कि बीते तीन सालों में एक फीडबैक मुझे लगातार मिल रहा है. वो यह है कि हम चाइनीज़ इंडस्ट्री को अपने मुल्क में आने के लिए इंसेंटिव तक देते हैं फिर भी इंवेस्टमेंट के लिए जो टाइम लगता है यानी अग्रीमेंट से लेकर इंप्लीमेंट तक का समय, वह बहुत अधिक है. हम सभी जानते हैं कि अगर किसी निवेशक के लिए समय जा रहा है तो यह उसके लिए सही निवेश नहीं. उन्होंने कहा कि सरकार की पूरी कोशिश है कि उन अड़चनों को दूर किया जाए जिसकी वजह ये अधिक समय लगता है और हम लगातार इस दिशा में काम कर भी रहे हैं.

खान ने आगे कहा, ‘यह समझने वाली बात है कि मुल्क की दौलत तब तक बन ही नहीं सकती जब तक कि उसका औद्योगिकीकरण ना हो. यह बहुत तकलीफदेह है कि छोटे-छोटे मुल्कों का निर्यात कहां से कहां पहुंच चुका है, लेकिन हम वहीं के वहीं बने हुए हैं. एक्सपोर्ट नहीं करने वाला मुल्क कैसे आगे बढ़ सकता है? जब तक हम दुनिया को चीजें बेचेंगे नहीं हम आगे कैसे बढ़ सकते हैं. अभी भी हम सब्जियां, प्याज़ वगैरह बेच रहे हैं इससे तो मुल्क आगे नहीं बढ़ेगा’.

इमरान खान ने भारत की तारीफ करते हुए कहा कि जो नया टेक्नोलॉजिकल रेवोल्यूशन है, आईटी का, हिंदुस्तान उसमें बीस साल पहले किधर था और आज उसका एक्सपोर्ट देंखे और आज हमें देखें. पिछली सरकारों पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि हमारे पास युवा हैं और हमारे पास इतनी क्षमता है लेकिन इस पर कभी ध्यान नहीं दिया गया. खान ने निर्यात को बढ़ावा देने के लिए चीन और तुर्की की मिसाल देते हुए कहा कि इन मुल्कों ने बेहद प्लान तरीके से अपने निर्यात को बढ़ाया है.
चीन के बारे में इमरान ने कहा कि यह हमारे लिए एक बहुत बड़े फायदे की बात है कि दुनिया की सबसे तेज़ी से आगे बढ़ रही अर्थव्यवस्था वाला देश हमारा पड़ोसी है. हमारी सत्तर साल पुरानी उनसे दोस्ती है और सबसे बड़ी बात कि वो हर तरह के सहयोग के लिए तैयार है. खान ने पिछली सरकारों पर तंज़ करते हुए कहा कि हमारी समस्या ये रही है कि हम ही कभी तैयार नहीं रहे. अपने संबोधन में पाकिस्तानी PM ने अपनी सरकार और उसकी कोशिशों की भी जमकर तारीफ़ की. उन्होंने कहा कि जब हमारी सरकार का कार्यकाल शुरू हुआ तो सबसे पहले हमने पुराने मसलों को हल करने और स्थिरता लाने की कोशिश की. इसके बाद धीरे-धीरे चीज़ों को बेहतर बनाने की दिशा में काम किया. उन्होंने कहा कि आने वाले समय में चीन की यात्रा की भी योजना है. हालांकि उन्होंने कोई तय तारीख नहीं बताई.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

2 × four =