Wednesday , September 7 2022

मुंबई में तीसरी लहर खत्‍म!

मुंबई. महाराष्‍ट्र की राजधानी मुंबई में लगातार चौथे दिन मंगलवार को कोविड -19 मामलों में गिरावट दर्ज की गई. यहां टेस्‍ट पॉजिटिविटी रेट सोमवार को 28 प्रतिशत था जो गिरकर मंगलवार को 18.7 प्रतिशत हो गया. इस पर विशेषज्ञों ने तर्क दिया कि यह बीमारियों में तेजी से कमी होने का संकेत है. महाराष्ट्र कोविड टास्क फोर्स के सदस्य डॉ शशांक जोशी के अनुसार, शहर की रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई अपने चरम को पार कर चुका है और कोविड -19 की लहर जल्द ही स्थिर हो सकती है. उन्होंने कहा कि बीते दिनोंं तक की संख्या स्पष्ट रूप से लगभग 25 प्रतिशत की पॉजिटिविटी रेट दिखा रही थी. हम उन संख्याओं में और गिरावट की उम्मीद कर रहे हैं.

डॉ शशांक जोशी ने कहा कि ‘पिछले तीन से चार दिनों में, हमने एक प्रवृत्ति देखी है जो बताती है कि मामलों की संख्या तीन कारणों से कम हो सकती है. पहला, बहुत सारे लोग अब घर पर हैं और वे सेल्‍फआइसोलेशन में हैं और टेस्‍ट नहीं करा रहे हैं. दूसरा, बहुत से लोग सेल्‍फ टेस्‍ट कर रहे हैं और पर वे रिपोर्ट नहीं कर रहे हैं और तीसरा, हमें सही संख्या की जानकारी नहीं है. इस सुनामी जैसी तीसरी लहर का असली पैमाना वे लोग होंगे जो कोविड-19 के कारण अस्पतालों में भर्ती हो रहे हैं, न कि वे लोग जो कोविड-19 के साथ भर्ती हुए.

महाराष्ट्र और मुंबई में कोरोना वायरस संक्रमण के आंकड़ों में सोमवार को गिरावट दर्ज की गई. मुंबई में कम मरीजों के मिलने को जानकार ‘संडे इफेक्ट’ बता रहे हैं. वहीं, कुछ एक्सपर्ट्स इसे अच्छा संकेत मान रहे हैं. मुंबई में सोमवार को संक्रमण के मामलों में 30 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई. शहर में 13 हजार 468 नए मरीज मिले हैं. रविवार को यह आंकड़ा 19 हजार 474 पर था. इसके अलावा शहर में पॉजिटिविटी रेट भी कम होकर 23 फीसदी पर आ गया.

आंकड़ों को देखें, तो 7 जनवरी से ही मुंबई में मामलों में गिरावट जारी है. शुक्रवार को शहर में 20 हजार 971 मरीज मिले थे, जो 8 जनवरी यानि शनिवार को कम होकर 20 हजार 318 पर आ गए. रविवार को यह आंकड़ा 19 हजार 474 पर था. सोमवार को नए संक्रमितों की संख्या भारी गिरावट के साथ 13 हजार 648 पर आ गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

four × 3 =