Monday , November 7 2022

संयुक्त अरब अमीरात के बाद अब यहां बनेगा भव्य मंदिर

दुबई : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बहरीन के प्रधानमंत्री सलमान बिन हमद अल खलीफा से बात की और इस दौरान उन्होंने दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा की तथा राजनीतिक, व्यापार और निवेश सहित विभिन्न क्षेत्रों में संबंधों में लगातार हुई प्रगति पर संतोष जताया। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) से जारी एक बयान के मुताबिक, दोनों नेताओं की फोन पर हुई इस बातचीत के दौरान प्रिंस खलीफा ने भारत के गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं भी दीं। पीएमओ के मुताबिक, ‘दोनों नेताओं ने भारत और बहरीन के द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा की और इस बात पर संतोष जताया कि राजनीतिक, व्यापार और निवेश, ऊर्जा, स्वास्थ्य, सुरक्षा और लोगों के बीच आपसी संपर्क सहित विभिन्न क्षेत्रों में संबंधों में लगातार प्रगति देखी गई है।’ भारत और बहरीन के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना का दोनों देश वर्ष 2021-22 में स्वर्ण जयंती मना रहे हैं। प्रधानमंत्री को दिया भारत आने न्यौता पीएमओ के मुताबिक, प्रधानमंत्री ने कोविड-19 महामारी के दौरान बहरीन में रहने वाले भारतीय समुदाय के लोगों का बहुत अच्छे से खयाल रखने के साथ ही उनकी सामाजिक और सांस्कृतिक जरूरतों को पूरा करने के लिए बहरीन के नेतृत्व के प्रति आभार जताया। इस बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने बहरीन के सुल्तान हमद बिन ईसा अल खलीफा को शुभकामनाएं प्रेषित कीं और प्रधानमंत्री सलमान बिन हमद अल खलीफा को भारत आने का निमंत्रण भी दिया। मंदिर के लिए भूमि आवंटन पर दिया धन्यवाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर इस बातचीत की जानकारी दी। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘क्राउन प्रिंस और बहरीन के प्रधानमंत्री एचआरएच प्रिंस सलमान बिन हमद अल खलीफा के साथ गर्मजोशी से बातचीत की। स्वामीनारायण मंदिर के लिए भूमि आवंटन पर हाल के निर्णय सहित भारतीय समुदाय की जरूरतों पर राज्य के ध्यान के लिए उन्हें धन्यवाद दिया।’ मंदिर का निर्माण बहरीन में रहने वाले भारतीय नागरिकों के लिए अच्छी खबर है। इससे पहले दुबई और अबू धाबी में भी मंदिर निर्माण चल रहा है। दुबई में बन रहा भव्य मंदिरसंयुक्त अरब अमीरात में भारतीयों की बड़ी आबादी रहती है। इसमें बड़ी संख्या हिंदुओं की भी है जो काम या पढ़ाई के सिलसिले में दुबई जैसे शहरों में रहते हैं। हिंदुओं के लिए अगले साल तक दुबई में एक भव्य मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा जिसका निर्माण कार्य करीब 50 फीसदी तक पूरा हो गया है। यह मंदिर दुबई के जेबल अली क्षेत्र में बन रहा है और इसका शिलान्यास 29 अगस्त 2020 को हुआ था। अब इस मंदिर का ढांचा आकार लेने लगा है। 888 करोड़ रुपए की लागत से बन रहा मंदिरअब तक के निर्माण के बारे में अपडेट देने के लिए मंदिर प्रबंधन ने एक टाइम-लैप्स वीडियो जारी किया है। दुबई की सामुदायिक विकास प्राधिकरणके अनुसार जेबेल अली में गुरु नानक दरबार गुरुद्वारा के पड़ोस में स्थित यह मंदिर बर दुबई में सिंधी गुरु दरबार का विस्तार है। दुबई के अलावा अबू धाबी में भी एक हिंदू मंदिर का निर्माण तेजी से चल रहा है। बोचासनवासी अक्षर पुरुषोत्‍तम स्वामीनारायण संस्‍था संगठन 450 दिरहम यानी करीब 888 करोड़ रुपये की लागत से यह मंदिर निर्माण करा रहा है। अबू धाबी में भी बन रहा मंदिर संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी में एक हिंदू मंदिर का निर्माण किया जा रहा है। यह पत्थरों से निर्मित यूएई का पहला पारंपरिक मंदिर होगा। बीएपीएस हिंदू मंदिर अबू धाबी प्रोजेक्ट के सदस्यों का दावा है कि इस मंदिर की उम्र करीब 1000 साल है यानी एक हजार साल तक मंदिर मजबूती से खड़ा रहेगा। रिपोर्ट के मुताबिक मंदिर के निर्माण का पहला चरण पूरा हो चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − 12 =