Sunday , November 6 2022

लखनऊ विश्वविद्यालय ने प्रस्तुत किया 2022-23 का बजट

विश्वविद्यालय का बजट घाटा 42% से घट कर 34% हुआ।
लखनऊ विश्वविद्यालय ने माननीय कार्य परिषद की बैठक में वित्त समिति द्वारा पारित 2022-23 के बजट को प्रस्तुत किया। इस बजट के अंतर्गत संभावित प्राप्तियां, (आय) रू 19781.40 ( शासन से प्राप्त होने वाले अनुदान सहित) और संभावित व्यय लगभग रू 30086.94 है।

यह वित्तीय घाटा लखनऊ विश्वविद्यालय में चलने वाले विभिन्न स्ववित्तपोषित पाठ्यक्रमों अन्य स्रोतों से प्राप्त होने वाले आय से पूरा किया जाता है।

वित्तीय वर्ष 2021 – 22 में कुल आय रू 15189.00 और व्यय रू 26488.000 था। (सभी आय व्यय लाख रुपए में हैं)

बजटीय घाटे में कमी बेहतर वित्तीय प्रबंधन के चलते हासिल किया गया जिसमें आय के नए स्रोतों का सृजन तथा खर्च में मितव्ययिता के चलते हासिल हो सका।
किंतु माननीय कुलपति प्रो आलोक कुमार राय के प्रयासों से माननीय कार्य परिषद ने अब एआईसीटीई All India Council for Technical Education (AICTE) से अनुमोदित पाठ्यक्रमों में 5% से 15% तक कि वेतन वृद्धि करते हुए न्यूनतम वेतन रू 57,600/- लागू कर दिया है, जिससे इन पाठ्यक्रमों में पढ़ाने वाले शिक्षकों को लाभ प्राप्त होगा।

इसी प्रकार फैकल्टी ऑफ इंजीनियरिंग एंड टैकनोलजी में निदेशक के पद के नियुक्ति को भी स्वीकृति प्रदान कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen + sixteen =